दिल्ली में कोरोना के खतरे के बीच हजारों की संख्या में लोग पहुंचे अड्डे, विपक्षी नेताओं ने सरकार पर बोला हमला

0
30

नई दिल्ली:

देशव्यापी लॉकडाउन के चलते आजीविका पर विराम लग जाने के बाद दूरदारज के क्षेत्रों में स्थित अपने घर लौटने की की उम्मीद में. हजारों प्रवासी मजदूरों की भीड़ कोरोना वायरस के खतरे की परवाह न करते हुए दिल्ली. उनके सिर पर सामान लदा लदा. कुछ ने मास्क लगा रखा था तो कुछ नहीं इससे.

8lio7srg

लिए सरकार ने भी घोषणा की कि उसने सैकड़ों किलोमीटर दूर अपने गृह राज्य पैदल जाने की कोशिश लिए लिए लिए बसों बसों लिए दिख रही थीं. इन लोगों का कहना था कि लॉकडाउन के चलते रोजगार छिन जाने से वे नगरों नगरों, गांवों को लौटना चाहते खचाखच. हैं भरी में सवार होने के लिए लोगों को संघर्ष करना पड़ रहा रहा. कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के उद्देश्य से पुलिस को खचाखच भरी बसों से लोगों को उतारना पड़ा. पड़ा धर्मार्थ से जुड़े ने इन लोगों को आगे की की के लिए भोजन वितरित किया किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को 21 दिन के राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा की थी जिसके सड़क सड़क रेल घरों की ओर पलायन शुरू कर दिया. परिवहन के अभाव में बड़ी संख्या में ये लोग पैदल ही सैकड़ों किलोमीटर दूर अपने घर वापस वापस जाने लगे.

इधर लोगों की भीड़ को लेकर प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कर सरकार हमला बोला बोला है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक वीडियो ट्वीट कर “,” हजारों भारतीय भाई बहन अपने गांव की तरफ वापस योजना नहीं थी, सरकार ने इन्हें ऐसे ही जाने के लिए छोड़ दिया “.”

वहीं प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर सरकार पर मनवता के हीत में काम करने की “”, “मानवता करे पुकार जागो हे” “.